Dil Ki Dhadkan Shayari in Hindi

Dil Ki Dhadkan Shayari in Hindi: दिल की धड़कन शायरी, Dil Ki Dhadkan Shayari Facebook Comment, Dil Ki Dhadkan Shayari SMS, Dil Ki Dhadkan Shayari for Girlfriend, Dil Ki Dhadkan Shayari GF Ke Liye, Dil Ki Dhadkan Shayari Pic, Dil Ki Dhadkan Shayari.

दोस्तों, आज में आप लोगो के साथ कुछ Dil Ki Dhadkan Shayari in Hindi या कहे दिल की धड़कन शायरी हिंदी में, लेकर आया हूँ और उम्मीद है कि आप जरूर पसंद करेंगे।

Dil Ki Dhadkan Shayari in Hindi – Dhadkan Shayari Sms

Dil Ki Dhadkan Shayari in Hindi

हर धड़कन में एक राज़ होता है
हर बात कहने का एक अंदाज़ होता है
जब तक ठोकर न लगे इश्क़ में
हर किसी को अपने महबूब पे नाज़ होता है
****
शोर न कर धड़कन ज़रा थम जा कुछ पल के लिए
बड़ी मुश्किल से मेरी आँखों में उसका खवाब आया है
****
Shor Na Kar Dhadkan Zara Tham Ja Kuch Pal Ke Liye
Badi Muskil Se Meri Aankhon Mein Uska Khawab Aaya hai
****
दिल की धड़कन को धड़का गया कोई
मेरे ख्वाबों को जगा गया कोई
हम तो अनजाने रास्तो पे यूं ही चल रहे थे, अचानक ही प्यार का मतलव भी सीखा गया कोई
Dil Ki Dhadkan Shayari in Hindi
Dil ki dhadkan ko dhadka gaya koi
Mere khawaboon ko jgaa gaya koi
Hum to anjane rasto pe yoon hi chal rahe the
Achanak hi pyar ka matlab sikha gaya koi
****
मेरी धड़कनो से दिल का धड़कना माँगोगे
एक दिन तुम मुझसे मेरा प्यार उधर माँगोगे
मैं वो फूल हूँ जो तेरे चमन से न खिलेगा
एक दिन तुम अपनी वीरान ज़िन्दगी के लिए बहार माँगोगे
****
Meri Dhadkano Se Dil Ka Dhadknaa Mangoge
Ek Din Tum Mujhse Mera Pyaar Udhar Mangoge
Main Wo Phool Hoon Jo Tere Chaman Se Na khilega
Ek din tum Apni Viran Zindagi Ke Liye Bhaar Mangoge
****
आज भी मेरे दिल में वो रहती है
आज भी मेरे सपनो में वो दिखती  है
क्या हुआ अब हम दूर है एक दुसरे से पर
आज भी मेरी साँसे उसकी धड़कन में बस्ती है
****
Aaj Bhi Mere Dil Mein Wo rehti Hai
Aaj Bhi Mere Sapno Me Wo Dikhti Hai
Kya Hua Ab Hum Door Hai Ek Dosre Se Par

Aaj Bhi Meri Saanse Uski Dhadkan mein basti Hai

Dil Ki Dhadkan Shayari in Hindi
दिल की धड़कन है , ख्यालों में मेरे रहता है
कौन है वो , जो सवालों में मेरे रहता है
****
जिस का देखा न चेहरा उस से वफ़ा करता हूँ
दिल के आईने में , मैं उस से मिला करता हूँ
****
मैं नहीं जानता यह किस की तलब है मुझ को
किस का अरमान इरादों में मेरे रहता है
****
ख्वाब है वो मेरा , हक़ीक़त बनाऊं कैसे
अपनी हसरत को मैं , तक़दीर बनाऊं कैसे
मुझ को मिलता है सकूँ , उस का तसबुर कर के
वो इशारा जो इशारों में मेरे रहता है
किस की तारीफ में लिखी यह ग़ज़ल क्या जानू
किस को कहता हूँ मोहब्बत का जनून क्या जानू
मैं तो बस एक ही उम्मीद में रहता हूँ सदा
उस को देखूँ जो नज़रों में मेरी रहता है

Article written by

Latest Updates On Celebrities Biography, Actress HD Bikini Wallpapers, Super Hit Status, Hindi Shayari & Funny Jokes.

Please comment with your real name using good manners.

Leave a Reply