जिंदगी शायरी | जिंदगी शायरी इमेज - MadeForYouth.com

Sunday

जिंदगी शायरी | जिंदगी शायरी इमेज

जिंदगी शायरी, जिंदगी शायरी इमेज, जिंदगी शायरी दो लाइन, जिंदगी शायरी फेसबुक, जिंदगी शायरी 2 लाइन, जिंदगी शायरी रेख़्ता।
जिंदगी शायरी | जिंदगी शायरी इमेज:  प्यारे दोस्तों, कुछ चुनिंदे जिंदगी शायरी और जिंदगी शायरी इमेज आप निचे पढ़ने वाले है। इससे पहले हम कुछ हिंदी दोस्ती शायरी शेयर कर चुके है, जो आप  लोगो को काफी अच्छी लगी है। तो बने रहिये www.madeforyouth.com के साथ और मजे लेते रहिये ऐसे है जिंदगी शायरी के साथ साथ जिंदगी शायरी इमेज के।

जिंदगी शायरी | जिंदगी शायरी इमेज


जिंदगी शायरी:

ज़िन्दगी उस रेस के घोड़े की तरह हो गयी है जिसकी आँखों के दोनों तरफ पट्टी है
करना क्या है खबर नहीं पर दौड़ रहे है क्योंकि भीड़ का हिस्सा है

दलीलें ‘झूठ’ की ही होती है…
‘सच’ खुद अपना वकील होता है…!”

भूलना सीखिए…
एक दिन दुनिया भी यही करने वाली है

तुझसे पीछा छुटाने की सोच रहा हूँ,
बियाबाँ में ठिकाने की सोच रहा हूँ।

कभी सिर तो कभी पाँव अपने ढंकता हूँ,
छोटी सी चादर से उम्मीदें बड़ी रखता हूँ।

अज़ीज़ इतना ही रक्खो कि जी सँभल जाए
अब इस क़दर भी न चाहो कि दम निकल जाए

न मोहब्बत संभाली गई,न नफरतें पाली गईं बङा अफसोस है
उस जिंदगी काजो तेरे पीछे खाली गई

नियम कुदरत का बहुत ही ख़ास है
दरख़्त पे हवा है या दरख़्त हवा के पास है
गुरुर ना हो अपनी शख्शियत का
बिन हवा दरख़्त नही रिश्ता दोनो का ख़ास है
ज़िन्दगी में…….!

इससे जिंदगी मे हम बहुत सी चीजे खो देते है
“नहीं” जल्दबाजी मे बोलने पर,
और
“हाँ” देर से बोलने पर।!!!

कभी कभी कुछ ना समझना,
गलत समझने से ज्यादा बेहतर होता है !!
ये जिदंगी तमन्नाओं का गुलदस्ता
ही तो हैं
कुछ महकती हैं ,कुछ मुरझाती हैं और कुछ
चुभ जाती हैं
ये रिश्ते भी बड़े जिद्दी होते है
हासिल कहाँ नसीब से होती है …
.
मत सोच इतना
ज़िन्दगी के बारे में~ जिसने ज़िन्दगी दी है~
उसने भी तो कुछ सोचा होगा॥

बड़े अजीब है ये ज़िंदगी के रस्ते,
अनजाने मोड़ पर कुछ अजनबी दोस्त बन जाते है,
मिलने के ख़ुशी दे या न दे,
बिछड़ने का गम जरूर दे जाते है।

जिंदगी शायरी इमेज

जिंदगी शायरी | जिंदगी शायरी इमेज

जिंदगी शायरी

जिंदगी शायरी इमेज

जिंदगी शायरी | जिंदगी शायरी इमेज

जिंदगी शायरी

जिंदगी शायरी
जिंदगी शायरी, जिंदगी शायरी इमेज, जिंदगी शायरी दो लाइन, जिंदगी शायरी फेसबुक, जिंदगी शायरी 2 लाइन, जिंदगी शायरी रेख़्ता।

No comments:

Post a Comment