Tuesday

वफादार और तुम... ख्याल अच्छा है।

वफादार और तुम... ख्याल अच्छा है। दोस्तों प्यार में लोग जब एक दूसरे से ऊब जाते है या फिर एक दूसरे से नफरत करने लगे तो समझ लीजिये बेवफाइयों का नया दौर चल निकला है। कई तरह के इल्जामात एक दूसरे पर लगाए जाते है। ऐसे ही कुछ ख़ास "बेवफाई शायरी" हम आपके साथ शेयर कर रहे है।


माना की तेरे प्यार का मालिक नहीं हु में,
पर किरायेदार का भी तो कुछ हक़ बनता है।

तुम उलझे रहे हमें आजमाने में,
और हम हद से गुजर गए तुम्हे चाहने में।

गम ने हसने न दिया, ज़माने ने रोने न दिया,
थक के जब  सितारों से पानाह ली तो तेरी यादो ने सोने न दिया।


Previous Post
Next Post

0 comments: