इशारो की भाषा - एक अनोखी प्रेम कहानी - Super Hit Status | Love Story | Hindi Shayari | Hot Images | Bikini Bra Pics | Bollywood Actresses

Wednesday

इशारो की भाषा - एक अनोखी प्रेम कहानी

इशारो की भाषा - एक अनोखी प्रेम कहानी : दोस्तों एक प्रेम कहानी शेयर कर रहा हूँ जो हमें बताएगी की आज भी दुनिया में सच्चे प्यार करने वाले है।

एक लड़का एक लड़की से बहुत प्यार करता था. 
लेकिन उसकी एक बहुत बुरी आदत थी की उसे बात करने की तमीज़ नही थी. 
लड़की भी उसे बहुत पसंद करती थी लेकिन उसके घर वाले उस लड़के को पसंद नही करते थे. क्यूकी उसे बोलने की तमीज़ नही थी.
एक बार उस लड़के ने लड़की को कहा :- "आई लव यू" तभी उस लड़की के पापा का फोन आया.
इशारो की भाषा - एक अनोखी प्रेम कहानी

पापा :- "कहा हो, उसी लड़के के पास होगी. 
कितनी बार बोला है की उस लड़के से दूर ही रहा करो" ये कहकर उसके पापा ने कॉल काट दिया.
तब उस लड़की ने बोला की आई लव यू टू...
लड़का समझ गया और वहाँ से चला गया.
लड़के की लोकल पड़ाई पूरी हो चुकी थी
इस लिए उसे आगे पड़ाई के लिए देश से बहर जाना था. अगले दिन वो लड़की के पास गया और उससे बोला :- "मुझे पता है, तुम्हारे पापा मुझे क्यू नही पसंद करते. मगर अब मैं सुधर जाउगा."
लड़की खुश हुई और उसने लड़के को उसके पापा से बात करने को बोला.
लड़का लड़की के पापा के पास गया और उनसे वादा किया की वो अच्छा बन जाएगा.
लड़के के घरवालो की सहमति पर जाने से पहले लड़के की उस लड़की से सगाई कर दी.
दोनो ने एक़ दूसरे को रिंग पहनाई वो लड़का चला गया मगर वाहा वो डेली उसे कॉल करता,
उसे मेसेज करता.
और प्यार भारी बाते करता.
मगर एक दिन, वो लड़की अपने ममी पापा के साथ घर वापिस आ रही थी
तभी एक़ कार ने उन तीनो को टक्कर मार दी.
थोड़ी देर बाद लड़की ने देखा की उसके मम्मी पापा दर्द से चिल्ला रहे थे. वो कुछ करना चाहती थी मगर उसे भी काफ़ी चोट आई थी.
उसे हॉस्पीटलाइज़्ड किया गया. वाहा डॉक्टर ने बताया की एक्सिडेंट की वजह से लड़की ने अपनी आवाज़ खो दी है और वो अब कभी बोल नही सकती.
लड़की को इस बात से बहुत ज़्यादा सदमा लगा.
उसे घर लाया गया. लड़के के कॉल पे कॉल आए. मेसेज पे मेसेज, मगर उस लड़की ने ना कॉल और ना ही मेसेज का रिप्लाइ दिया.
वो उसे दुखी नही करना चाहती थी.
उसने उस लड़के को लेटर लिखा की वो उसे भूल जाए. वो अब उससे प्यार नही करती.
और उसने लेटर के साथ सगाई वाली रिंग भी साथ वापिस भेज दी. वो अब बहुत दुखी रहने लगी और रात दिन रोने लगी.
उसके घर वालो ने सोचा की शायद ये जगह छोड दे तो वो उसे भूल जाएगी.
ये सोचकर उन्होने अपने फ्लॅट चेंज कर दिया और न्यू जगह चले गये.
वहाँ वो लड़की इशारो की भाषा सिख गई और वो अपने पापा को डेली कहती की उसने उसको भूला दिया.
कुछ दीनो बाद उस लड़के का दोस्त उस लड़की के पास आया और उससे बोला की वो तुमसे मिलना चाहता है. लडकी ने एक खत पे लिख कर उसके दोस्त को कहा की वो उस लड़के को कभी नही बताए की मैं कहा हू,
और मैं अब बोल नही सकती.
ये सुनकर उस लड़के का दोस्त वहाँ से चला गया. 2-3 साल बाद उस लड़के का वो ही दोस्त अपने हाथ मे एक कार्ड लेकर वहाँआया.
उसने उस लड़की को वो कार्ड देते हुए बोला की :-
"वो अब शादी कर रहा है" लडकी ने दुखी मन से वो कार्ड खोला और देखा की दुल्हन की जगह उसका खुद का नाम लिखा था. उसने वापिस उपर देखा तो वहाँ वो लड़का (उसका लवर) भी खड़ा था.
उसने उसे इशारो मे समझाया की "इन 2-3 सालो मे उसने भी केवल इशारो की भाषा सीखी इसलिए आने मे लेट हो गया.
अब तुम जैसे बोलोगी, वैसे ही मैं बोलूँगा"
ये सुनकर लड़की की आँखो मे आँसू आ गये और उसने लड़के को गले लगा लिया. ( प्यार प्यार ही होता) |

और पढ़िए : एक अजनबी - अजब प्रेम के गजब कहानी।
ये भी पढ़ें : प्यार में देरी अच्छी नहीं।

No comments:

Post a Comment